सोमवार, 15 मार्च 2021

meghalya governor

किसान आंदोलन के समर्थन में मेघालय के राज्यपाल सत्य पाल मलिक का बयान क्या  unconstitutional conduct नहीं है ।
आख़िर उन्होंने ऐसा बयान क्यों दिया । क्या वे  आपदा में अवसर की तलास में हैं ।क्या वे राज्य पाल पद से त्याग पत्र देकर सक्रिय राजनीति में आने वाले हैं?
देश के किसान कृषि क़ानूनों को लेकर नाराज़ है ख़ास तौर पर west उ प हरियाणा और पंजाब में केंद्र सरकार और भाजपा के ख़िलाफ़ नाराज़गी है ।किसानो को मनाने में भाजपा पूरी तरह विफल रही है ।क्या अब सत्यपाल मलिक को आगे करके भाजपा किसानों को अपने पाले में लाना चाहती है ? 
रणनीति चाहे जो हो लेकिन एक बात तय है की राज्यपाल के पद पर रहते हुए सत्य पाल मलिक का आचरण मर्यादित नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें