रविवार, 13 दिसंबर 2020

केजरीवाल

दिल्ली के चीफ़ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल एक बार फिर राजनैतिक तौर पर सक्रिय हैं
इस बार उन्होंने किसानो के आंदोलन को समर्थन देकर पंजाब और हरियाणा की राज नीति पर अपनी पकड़ मज़बूत करने की रणनीति बनायी है 
केजरीवाल और उनके पार्टी के लोग किसानो के समर्थन में एक दिन उपवास रखेंगे उन्होंने देश के बाक़ी लोगों से भी एक डॉन का उपवास रखने की अपील की है 
उनका आरोप है की मौजूदा केंद्र सरकार पूर्व की congress सरकार की तरह काम कर रही है पिछली सरकार अन्ना आंदोलन को देश विरोधी कहती थी 
ऐन भाजपा सरकार भी उसी तरह किसानो के आंदोलन को anti national कह रही है 
केजरीवाल आज के दौर के सबसे चतुर नेताओं में से एक है 
राजनैतिक  पैंतरेवजी में उनको महारत हासिल है निज़ामुद्दीन मरकज़ से लेकर दिल्ली दंगों को लेकर केजरीवाल की भूमिका कुछ अलग ही दिखायी दी 
और किसानो के सवाल पर अलग केजरीवाल हर मौक़े पर राजनैतिक लाभ उठाने की कोशिस करते है अब देखना है की उनकी पैंतरेवाज़ी  का कितना लाभ आनेवाले चुनाओ में उनको मिलता है पंजाब में तो पहले से ही भाजपा को विफलता हाथ लगती रही है

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें