सोमवार, 3 अगस्त 2020

ram nam ki

राम नाम की लूट में कांग्रिस पार्टी कूद पड़ी है
अब उसके नेता कमल नाथ दिग्विजय सिंह सहित ज़्यादातर लोग राम भक्त बन गए है 
इन नेताओं का आत्मविश्वास भाजपा नेता subrmaniyam स्वामी के बयान के वाद आया है
श्री स्वामी जी के मुताबिक़ अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का क्रेडिट राजीव गांधी को देना चाहिए 
उनका कहना है की राम राज्य की स्थापना का नारा भी राजीव गांधी ने उस समय के फ़ैज़ाबाद में आयोजित एक चुनावी रैली में दिया था 
श्री स्वामी का यह बयान काफ़ी हद तक सही है भलहि इसका मक़सद राजनैतिक हो 
अयोध्या स्थित बाबरी मस्जिद में राम लला को कांग्रिस के शासन काल में रखा गया था 
फिर विवादित पूजा घर का ताला कांग्रिस के ही समय में खोला गया 
राम मंदिर के लिए प्रस्तावित मंदिर का भूमि पूजन और शिलान्यास भी कांग्रिस के समय ही हुआ
विवादित पूजा स्थल भी कांग्रिस के समय ही गिराया गया 
विवादित पूजा स्थल के चारों तरफ़ लगभग 68 acre land का अधिग्रहण भी कांग्रिस के ही वक़्त में हुआ अब भव्य मंदिर का निर्माण इसी भू भाग पर होने जा रहा है
कांग्रिस पार्टी नेहरु जी के बाद से लेकर अब तक soft hindutva के अजेंडा पर चलती रही है 
शायद यही कारण है की उसको लम्बे समय तक सत्ता में रहने का अवसर मिला 
अब देश के अलग अलग राज्यों में चुनाव हैं
कांग्रिस पार्टी soft hindutva aur nationalism को लेकर जनता के बीच में जाना चाहती है 
इसीलए चीन और राम अब कोंग्रेसियों को सपने में भी दिखायी दे रहे हैं

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें