गुरुवार, 28 मई 2020

America election

भारत अमेरिका के रास्ते पर कितना चल रहा है ये तो debate का मुद्दा हो सकता है लेकिन अमेरिका में ज़रूर भारत की तरह कार्य हो रहें है
ट्रम्प साहेब अपनी हर आंतरिक विफलता को छिपाने के लिए चीन को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं
अमेरिका में भी चुनाव होने वाला है ट्रम्प साहेब अभी तक अपना पिछला चुनावी वायदा पूरा नहीं कर पाए हैं
अगला चुनाव जितने के लिए नये नारों की ज़रूरत है इसलिए वे हर मर्ज़ के लिए चीन को ज़िम्मेदार ठहरा रहे है
ट्रम्प की leadership में अमेरिका हर मोर्चे पर कमज़ोर दिखायी दे रहा है उनकी economy foreign policy सब fail रही है वेरोज़गारी बड़ी है
ऐसे में social divide aur provocative slogans के ज़रिए  ही वे चुनाव में जाने की तैयारी में हैं
अब देखना है कि अमेरिकी जनता ट्रम्प साहेब पर दुबारा भरोसा करती है या नहीं
वैसे अमेरिका में भी भारत की तरह opposition की हालत बेहद कमज़ोर है
TINA factor(there is no alternative) का लाभ आने वाले चुनाव में ट्रम्प साहेब को भी मिल सकता है

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें